संगीत राग परिचय | Sangeet Raag Parichaya PDF In Hindi

अगर आप संगीत राग परिचय PDF की तलाश में हैं तो आप सही जगह पर आए हैं। Sangeet Raag Parichaya In Hindi PDF Download लिंक इस लेख के नीचे दिया गया है।

संगीत राग परिचय – Sangeet Raag Parichaya Book PDF Free Download

Sangeet Raag Parichaya
लेखकरामावतार / Ramavatar
भाषाहिन्दी
PDF NameSangeet Raag Parichaya PDF
कुल पृष्ठ70
Pdf साइज़1 MB
Categoryसाहित्य / Literature

Sangeet Raag Parichaya Hindi PDF Download

पुस्तक का एक मशीनी अंश

ग्रश्न-स्वर किसको कहते है

उत्तर-पुरीली ओर मीठी आवाज जो करों को भल्ली प्रतीत

हो उसे स्वर कहते हैं ।

प्रश्न-मूल स्वर कितने होते हैं

उत्तर-मूल स्वर सात होते हैं ।

प्रशन-मूल स्वरों के पूरे नाम बताओ !

उत्तर-मूल स्वरों के परे नाम इस प्रकार हैं ।

(१) पडज, (२) ऋषभम, (३) गन्धार, (७) मध्यम

(५) पंचम, (६) धंदत और (७) निपाद्‌

प्रश्न-मूल स्व॒रों के आधे नाम बताओ ।

उत्तर-मूल स्वरों के आधे नाम हैं।-

सरेगम-.पधनी

५ प्रश्न-स्वर कितने प्रकार के होते हैं १

उत्तर-स्व॒र तीन प्रकार के होते हैं।

प्रश्न- तीन प्रकार के स्व॒रों के नाम बताओ |

उत्तर-शुद्ध, कोमल ओर तीत्र

प्रश्न-शुद्ध स्वर कितने प्रक्नार के होते हैं ९

उत्तर-शुद्ध स्वर दो प्रकार के होते हैं, चल ओर अचल ।

प्रश्न-चल स्व॒रों के नाम ओर संख्या बता ।

उत्तर-चल स्वर पाँच हैं | उनके नाम ये हैं ।

रेंगम घ ओर नी |

प्रश्ष-अचल स्वर कितने ओर कोन-कोन से हैं ?

उत्तर-अचल स्वर दो हैं, स ओर प ।

प्रश्न-शुद्ध स्वरों के नाम ओर संख्या बताओ ।

उत्तर-शुद्ध स्वर सात हैं उनके नाम ये हैं।-

सरेगमपघधनी

प्रश्न-कोमल स्व॒रों की संख्या ओर नाम बताओ ।

उत्तर-फरोमल स्वर चार हैं उनके नाम ये हैं

र्॒गपघध नोी

प्रक्ष-तीत्र स्वरों के नाम ओर संख्या बताओ ।

उत्तर-तीत्र स्वर केवल एक है ओर वह मे है।

प्रश्न-शुद्र, कोमल ओर तीजत्र. कुल कितने स्वर हैं ?

उत्तर- शुद्ध, कोमल ओर तीत्र कुल १२ स्वर हैं।

प्रश्न-बारह स्वरों में से कितने शुद्ध, कितने कोमल और

कितने तीजत्र स्वर हैं ९

उत्तर-सात शुद्ध, चार कोमल ओर एक तीत्र स्वर है|

प्रश्ष-सप्तक किसको कहते हैं ।

उत्तर-सात स्त्ररों के समूह को सप्तक कहते

प्रश्ष-संगीत में कुल कितने सप्तक माने गये

उत्तर-संगीत में तीन सप्तक माने गये हैं |

प्रक्ष-तीनों सप्रकों के नाम बताओ ।

उत्तर-मध्यसप्तक, मन्द्रसप्तक, ओर तारसप्तक

प्रश्न-सप्तक में शुद्ध, कोमल ओर तीत्र स्वर मिल कर

कुल कितने स्वर होते हैं ९

उत्तर-सप्तक में शुद्ध, कोमल और तीम्र मिल कर कुल

बारह स्व॒र होते हैं ।

प्रश्न-सप्रक में लगनेवाले बारह स्व॒रों के नाम ओर संख्या

बताओ |

उत्तर-सप्तक में सात शुद्ध स्वर जसेः– सर गम पथनी

चार कामल स्व॒र जेंसेः”र गे घ वी ओर एक तीत्र

स्वर जेसे!- मे

श्ष-लय किसको कहते है।

उत्त-एक जेसी चलने वाली चांल को लय कहते है |

जेसेः-घड़ी की टिक-टिक ।

प्रश्च-संगीत में लय कितने प्रकार की मानी गईं है

उत्तर-संगीत में लय तीन प्रकार की मानी गई है |

प्रश्ष-तीनों प्रकार की लयों के नाम बताओ |

उत्तर-तीनों प्रकार की लय इस प्रकार हैं।-

१-मध्यलय, २-विलम्बितलय, ३-्र तलय |

प्रश्ष-ताल किसे कहते हैं ?

उत्तर-तवाल संगीत का तराजू है जो तबले आदि पर बज

कर गाने को नियम में रखता है ।

प्रश्न-काज़ क्रिसको कहते हैं।

उत्त-काल ताल के खाली भाग को कह

प्रश्ष-ताल केसे बनता है ?

उत्तर-ताल मात्राओं के हिसाब से बनता है।

प्रश्न-मात्रा का समय कितना होता है १

उत्तर-मात्रा का समय एक सेकण्ड होता है ।

प्रश्त-सम किसका कहते हैं ९

उत्तर-ताल की पहली मात्रा को सम कहते हैं ।

प्रश्न-ताली क्रिसको कहते हैं ?

उत्तर-दोनों हाथों को आपस में ठकराने से जो आवाज पेदा

होती है उसको ताली कहते हैं ।

प्रश्न-खाली किसको कहते हैं ?

उत्तर-दोनों हाथों को सीधा खोल देने को नाम खाली है।

प्रशन-ताल का अभ्यास किस ग्रकार करना चाहिये |

उत्तर-ताल का अभ्यास मात्राओं को गिनकर और ताली

देकर करना चाहिये । जैसे :-

ताली ताली खाली ताली

प्रश्न-आरोही किसको कहते हैं ?

उत्तर-स्वरों के चढ़ाव को आरोही कहते हैं । जेसे।-

स-रे-ग-म-प-ध-नी

प्रश्न-अवरोही किसको कहते हैं ९

उत्तर-स्वरों के उतराव को अबरोही कहते हैं । जेसे/-

नी-ध-प-म-ग-रे-स

प्रश्न-स्थायी किसको कहते हैं !

उत्तर-गीत के पहले भाग को स्थायी कहते हैं ।

प्रश्न-अन्तरा किसको कहते है ।

उत्तर-गीत के दूसरे भाग को अन्तरा कहते हैं ।

प्रश्न-वादी स्वर किसको कहते हैं ९

उत्तर-राग के राजा स्व॒र को वादी स्वर कहते हैं।

प्रश्न-संवादी स्वर किसको कहते हैं ?

उत्तर-राग के मंत्री स्वर को संवादी स्वर कहते हैं ।

प्रश्न-यमन कल्याण राग में कितने स्वर लगते हैं ?

उत्त-यमन कल्याण राग में सात स्वर लगते हैं।

प्रश्-यमन कल्याण राग में कौन-कौन से तोन और

कोन-फीन से शुद्ध स्वर लगते हैं ९

उत्तर-यमन कल्याण राग में म॑ स्वर तीत्र ओर अन्य सब

स्वर शुद्ध लगते हैं ।

प्रश्न-यमन कल्याण राग का वादी स्व॒र कोनसा है

उत्त-यपन कल्याण राग का वादी स्व॒र ग! है।

प्रश्न-यमन कल्याण राग का संवांदी स्वर कोनसा हैं ९

उत्तर-यमन कल्काण राग का संवादी स्वर त्ी! है ।

प्रश्न-यमन कल्याण राग के गाने का समय कौनसा है।

उत्त-यमन कल्याण राग के गाने का समय रात्री का

पहला पहर है। ह

प्रश्न-यमन कल्याण राग के आरोही के स्वर उच्चारण

करो ।

उत्त– स रेगसपधनोसं

प्रश्न-प्मन कल्याण राग के अपरोदी के स्वर उचारण

करो |

उत्तर- संनीधपसगरेस

संगीत राग परिचय | Sangeet Raag Parichaya PDF Download Link

संगीत राग परिचय – Sangeet Raag Parichaya Book PDF Free Download

Similar Posts

Leave a Reply