मादक औषधियाँ | Madak Aushadhiyan PDF in Hindi
| | | | | | | |

मादक औषधियाँ | Madak Aushadhiyan PDF in Hindi

मादक औषधियाँ | Madak Aushadhiyan Book PDF in Hindi Free Download

मादक औषधियाँ | Madak Aushadhiyan PDF in Hindi
लेखक / Writerअनिल अग्रवाल / Anil Agrawal
पुस्तक का नाम / Name of Bookमादक औषधियाँ / Madak Aushadhiyan
पुस्तक की भाषा / Book of Languageहिंदी / Hindi
पुस्तक का साइज़ / Book Size6.56 MB
कुल पृष्ठ / Total Pages183
श्रेणी / Category स्वास्थ्य / Health , आयुर्वेद / Ayurveda
डाउनलोड / DownloadClick Here

आपको अभी मादक औषधियाँ pdf की लिंक नीचे दे रहे है, आप नीचे दिए गए लिंक से बुक की pdf को डाउनलोड कर सकते है| अगर आपको किसी तरह की कोई समस्या आ रही है डाउनलोड करने में तो आप हमे कमेंट करके जरुर बताए हम आपको पूरी मदद देगे और आपको हम इस pdf के लिए दूसरा लिंक देगे तो आप हमे बताए की आपको क्या समस्या आ रही है.

पीडीऍफ़ डाउनलोड करने के लिए आपको नीचे दिख रहे लिंक पर क्लिक करना है क्लिक करके आप पीडीऍफ़ को अपने डिवाइस में सेव कर के उसे पढ़ सकते है.

क्लिक करे नीचे दिए लिंक पर >

Madak Aushadhiyan PDF

मादक औषधियाँ पुस्तक का एक मशीनी अंश

‘मादक औषधियां’ आज एक वहच्चित विषय है। अक्सर हम पढ़ते हैं कि हवाई
अड्डों पर सीमा शुल्क अधिकारियों द्वारा मादक औपषधियां जब्न की गई। अधिक
से अधिक युवा इन औषधियों की गिरफ्त में आते जा रहे हैं। आज हमें औषधियों
के अवैध व्यापार और इनके दुरुपयोग की दोहरी समस्या का सामना करना पड़
रहा है। यह समस्या पहले इतनी गंभीर नहीं थी।

संसार के सबसे बड़े अवैध व्यापार क्षेत्रों के बीच हमारे देश की भौगोलिक स्थिति के कारण समस्या और गंभीर भो हुई है। दक्षिण पूर्व एशियाई देशों-वर्मा, थाईलैंड और लाओस (जो कि ‘सुनहरा त्रिकोण! के रूप में जाने जाते हैं) और निकटवर्ती व मध्य एशियाई देशों -पाकिस्तान, अफगानिस्तान और इंरान (सनहरा चांद) के बीच फंसे होने से भारत मादक औषधियों की तस्करी के एक बड़े मार्ग के रूप में उभरा है। ‘सुनहग त्रिकोण” और सुनहरा चांद’ अवैध औषधि व्यापार की दो बड़ी धुरियां हैं। इसके अलावा उत्तर में नेपाल है जो कि मादक औषधियों क॑ विश्व बाजार में हशिश
और मैरिजुआना की आपूर्ति का सबसे वड़ा स्रोत है (चित्र ।)।

मादक आषधियों के दुष्प्रभावों से बेखबर अधिकांश नवयुवक महज
जिज्ञासावश इनका सेवन करते हैं।/अंग्रेजी में कहावत है ‘क्रियोसिटी किल्‍स द
कैट’ और नशे की लत लगने में भी ऐसा ही क॒छ होता है ॥लोकोक्तीय मछली
की तरह जो कि हरेक चारे पर मुंह मारती थी

युवाजन भी इन औषधियों के चंगुल में बुरी तरह से फंस जाते हैं। क्या यह अच्छा नहीं होगा कि उनकी इस जिज्ञासा को रचनात्मक ढंग से शांत किया जाये ? ये औषधियां क्‍या हैं ? इनका हमारे शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है ? वे हमारे शरीर को कैसे नुकसान पहुंचाती हैं ? इन औषधियों में ऐसी क्या खासियत है कि वे व्यक्ति को चूहेदानी में चूहे की तरह फंसा लेती हैं ? हम इन औषधियों से कैसे बचे रह सकते हैं

भारत ‘सुनहरे त्रिकोण” और “सुनहरे चांद’ के बीच स्थित है और नेपाल के कारण यह मादक औषधियों की तस्करी के लिए अति-संवेदनशील क्षेत्र बन गया है।के अध्यायों में हम इन प्रश्नों के उत्तर तलाश करेंगे। अधिकांश औषधियों का
अनूठा इतिहास है। कई औषधियों के साथ आश्चर्यजनक मिथक, आख्यान और
लोककथाएं जुड़ी हुई हैं।

इससे इनका अस्तित्व ही रहस्यपूर्ण और महिमा-मंडित हो गया है। इस रहस्य को तोड़ने और सचाई को जानने का प्रयास इस पुस्तक में किया गया है। सचाई की खोज में हम उन दूर-दराज के अनोखे देशों की यात्रा करेंगे जहां इन औषधियों के सेवन की प्रथा शुरू हुई। इन सबके अलावा इन औषधियों को नवीन वैज्ञानिक दृष्टि से भी देखा जायेगा। हस प्रकार कथा को दिलचस्प और रोमांचपूर्ण बनाने के साथ-साथ, लोगों की जानकारी के लिए, और विशेष रूप से युवाओं की जिज्ञासा को शांत करने के लिए, जो हमेशा ही औषधियों के बारे में और ज्यादा जानने को आतुर रहते हैं, कुछ कटु वैज्ञानिक तथ्य भी दिये जायेंगे।

अगर यह पुस्तक मादक औषधियों के दुष्प्रभावों को सही परिप्रेक्ष्य में उभार
कर युवाओं को इनका शिकार होने से बचा सके तो मैं समझूंगा कि मेरे प्रयासों
का मुझे उचित पुरस्कार मिल गया। मुझे पाठकों की रचनात्मक आलोचना प्राप्तकरके भी खुशी होगी, ताकि अगले संस्करण में उन्हें शामिल किया जा सके।
ऐसे सभी सुझावों को उचित श्रेय दिया जायेगा और अगले संस्करण में उनका
आभार प्रकट किया जायेगा।

मादक औषधियाँ | Madak Aushadhiyan Book PDF in Hindi Free Download

Similar Posts