भक्ति की चेतावनी : आनंद धन द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Bhakti Ki Chetawani : by Aanand Dhan Free Hindi PDF Book

भक्ति की चेतावनी : आनंद धन द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Bhakti Ki Chetawani : by Aanand Dhan Free Hindi PDF Book

आज हम भक्ति की चेतावनी हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक के बारे में जानेंगे इसमें बताया गया है मनुष्य संस्कारो के बंधन में जकड़ा हुआ है किन्तु उसके ये बंधन बाहर की पूजा से नहीं कट सकते | पूजा के कार्य अवश्य ही शान्तिप्रद होते है परन्तु ह्रदय में आलोक नहीं फैला सकते | आलोक के बिना व्यक्ति संस्कारो को देख नहीं पाता अतः उनसे छुटकारा भी नहीं प् सकता | ऐ प्राणी ! ह्रदय में आलोक संत वाणी द्वारा फैलता है | संत , प्रकाश की जीती जागती मूर्ति होते हैं | उनका साथ ईश्वर मिलन के लिए सच्ची चाह पैदा कर देता है परिणाम ईश्वर की पूजा केवल बाहर से नहीं होती , अंतर घट का एक एक भाव ईश्वर मिलन के लिए होने लगता हैं | धीरे धीरे अंतर घट प्रकाशित होते चला जाता है और उस आलोक में संस्कारो के बंधन कटते जाते हैं , शरीर, घर परिवार व संसार जिन्हे आज तक संस्कारो के कारण व्यक्ति अपना मानता आया था , उन का रूप बदल जाता है और सम्पूर्ण विश्व का कण कण ईश्वरमय बन जाता है |

मनुष्य की धारणा है की प्रत्येक चाही हुई वस्तु पायी नहीं जा सकती , किन्तु उसकी यह धारणा गलत है , किन्तु चाह में तीव्रता यदि न हो तो इच्छित वस्तु व् भाव आदि के मिलने में देर हो सकती हैं अन्यथा वे जरूर मिलते है | व्यक्ति धीरज खो बैठता है अतः जल्दी ही हताश व निराश हो जाता हैं | यदि वह धीरज से काम ले तो सफलता उसके कदम चुम सकती हैं |

भक्ति की चेतावनी : आनंद धन द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Bhakti Ki Chetawani : by Aanand Dhan Free Hindi PDF Book
लेखक / Writerआनंद धन / Aanand Dhan
पुस्तक की भाषा / Bhakti Ki Chetawani Book by Languageहिंदी / Hindi
पुस्तक का साइज़ / Book by Size42 MB
कुल पृष्ठ / Total Pages678
श्रेणी / Category धार्मिक / Religious , हिंदू / Hinduism

सभी पाठकगण को बधाई हो, आप जो पुस्तक सर्च कर रहे हो आज आपको मिल ही गयी हम ऐसी आशा करते है | भक्ति की चेतावनी के लिए आप भक्ति की चेतावनी हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक डाउनलोड करें , डाउनलोड लिंक निचे दिया गया है , आप भक्ति की चेतावनी हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक को डाउनलोड कर सम्पूर्ण अध्ययन कर सकते है |

डिप्रेशन से बचाती और उम्मीद जगाती हैं किताब

कहीं न कहीं आपने यह पढ़ा या सुना जरूर होगा कि किताबें हमारी अच्छी दोस्त होती हैं | विज्ञानियों का कहना है कि किताब पढ़ने से न केवल हमारा ज्ञान बढ़ता है बल्कि यह हमारे मूड को रिप्रेश करने का भी काम करती है | अमेरिका की पीटरसबर्ग यूनिवर्सिटी में हुए एक अध्ययन के मुताबिक जो लोग किताबें पढ़ने में अधिक समय व्यतीत करते है , उन्हें डिप्रेशन होने का खतरा कम हो जाता है |

“ सभी जीवों के प्रति दयावान बनो।”

आप यह पुस्तक pdfbank.in पर निःशुल्क पढ़ें अथवा डाउनलोड करें

यहाँ क्लिक करें –  भक्ति की चेतावनी हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक डाउनलोड करें

पुस्तक स्रोत

आपको पुस्तक डाउनलोड करने में असुविधा हो रही है या इस पुस्तक से सम्बंधित कोई भी सुझाव अथवा शिकायत है तो हमें मेल करे

Leave a Reply

%d bloggers like this: